दुनिया के सबसे खतरनाक अपराधी

अबूबकर ने बोर्नो राज्य के एक शहर में एक माध्यमिक विद्यालय से 276 लड़कियों का अपहरण कर सुर्खियो में भी शामिल था।

अबूबकर शेकाऊ, अबू इब्राहिम अल-हाशिमी अल-कुरैशी, दाऊद इब्राहिम, अयमान अल-जवाहिरीओविडियो गुज़मैन

जब से धरती पर कलयुग की शुरुआत हुई है, तब से धरती पर पाप और अपराध बढ़ गए हैं। यह जानकर हैरानी होती है कि समय बीतने के साथ अपराध करने वाले अपराधियों की संख्या बढ़ रही है। एक जमाना था जब अपराधियो को पहचाना आसन होता था और अपराधी खुद को अपराधी कहता था। लेकिन अब वक़्त बदल गया है अब आदमी सामने से अलग व्यव्हार करता है और पीछे अलग। यह जानना मुश्किल है की सामने से अच्छी बाते करने वाला शख्स के दिमाग में क्या खुराफात भरा है।

इस वक़्त चारों ओर और पाप प्रतीत होता है। दुनिया अंडरवर्ल्ड के गैंगस्टर के आगे झुके हुए हैं। यह गैंगस्टर अपहरण, नरसंहार, लूटपाट, जबरन वसूली और अन्य गतिविधियों में शामिल रहते हैं।

फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन / FBI (एफबीआई) और अन्य एजेंसीयां द्वारा दुनिया के सबसे खतरनाक अपराधियों की सूची हर साल तैयार की जाती है और इन अपराधियों की सूची समय बीतने के साथ हर साल बदल जाता है। इनमें से कुछ अपराधियों द्वारा बहुत ही खतरनाक गिरोह या संगठन चलाया जा रहा हैं, इसलिए यह न केवल देश के लिए बल्कि दुनिया के सभी देशों के लिए खतरनाक हो सकते हैं।   

फेलिसियन कबुगा


10. फेलिसियन कबुगा एक अपराधी

रवांडा के रहने वाले कबुगा को अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायाधिकरण ने मोस्ट वांटेड अपराधी घोषित किया हुआ है। कबुगा की, 1994 में, रवांडा में हुए नरसंहार में कथित भूमिका थी। इस नरसंहार में 800,000 से अधिक पुरुषों, महिलाओं और बच्चों का नरसंहार किया गया था।

कबुगा, अब 84 साल का माना जाता है। कबुगा ने अपने रेडियो स्टेशनों का इस्तेमाल अल्पसंख्यक के खिलाफ नफरत भड़काने के लिए किया था और कबुगा पर हत्याओं में इस्तेमाल किए गए हथियारों की आपूर्ति करने का आरोप है।

2008 में अमेरिका के विदेश विभाग ने कबुगा की सूचना देने वाले के लिए 37,29,84,000 रुपए का इनाम रखा था। 16 मई 2020 को फ्रांस में, फ्रांस पुलिस और आईआरएमसीटी द्वारा कबुगा को गिरफ्तार कर लिया गया।

गुच्चिफर 2.0

9. गुच्चिफर 2.0

यह एक या कई हैकर्स का ग्रुप है, जो 2016 में डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी के सर्वरों को हैक करने के लिए ज़िम्मेदार हैं। यह हैक हुए दस्तावेजों और ईमेलों को सार्वजानिक रूप से लीक करते हैं।
अमेरिकी न्याय विभाग ने पिछले साल 12 रूसी नागरिकों को हैक के लिए जिम्मेदार ठहराया था। यह सभी एक रूसी सैन्य खुफिया एजेंसी, GRU के सदस्य थे। हालांकि रूसी सरकार ने “गुच्चिफर 2.0” से अपने लिंक होने से इनकार कर दिया।

माटेयो मेसिना डैनारो


8. माटेयो मेसिना डैनारो

मेसिना डैनारो “द लास्ट मोहिकान ऑफ़ द ओल्ड माफिया” के नाम से विख्यात है। संगठित रूप से अपराध करने वाला “माटेयो मेसिना डैनारो” दुनिया के सबसे वांछित भगोड़े अपराधी में से एक है, 1993 के बाद से छुपा हुआ है।

57 साल के डेनेरो ने दावा किया: “मैंने अपने आप से एक पूरा कब्रिस्तान भरा”। 2016 में बर्नार्डो प्रोवेनज़ानो और 2017 में साल्वाटोरो रीना की मौतों के साथ, मेसिना डैनारो को माफियाओ के मालिक के रूप में देखा जाता है।

डैनारो ने अपने शाही जीवन शैली को बनाए रखा है। डैनारो के जीवन शैली और अपराध के लिए कई  राजनेताओं और व्यापारियों का हाथ शामिल हैं।


वासिलिस पेलियोकोस्टस

7. वासिलिस पेलियोकोस्टस

पेलियोकोस्टस यूरोप का सबसे आकर्षक इनामी चोर और अपहरणकर्ता है।  2006 में ग्रीक के जेल से, हेलिकॉप्टर में उसका भाई उसे भगा ले गया। उसे दो साल बाद फिर से गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उसी जेल से, फरवरी 2009 में एक बार फिर हेलीकॉप्टर में सवार होकर भाग गया।

पेलियोकोस्टस  के ऊपर एक मिलियन यूरो का इनाम रखा गया है। जो भी उसकी सूचना देगा उसके अरेस्ट होने पर सूचना देने वाले को एक मिलियन यूरो दिया जाएगा। हालांकि इसके साथी अलकेत रिजाई को नवंबर 2009 में गिरफ्तार कर लिया गया था।

त्स ची लोप

6. त्स ची लोप

चीनी-कनाडाई नागरिकता वाला त्स ची लोप, “एशिया का सबसे बड़ा ड्रग माफिया है”। यह पांच समूहों / गठबंधन वाले अंतरराष्ट्रीय ड्रग सिंडिकेट का नेतृत्व करता है। चीनी पुलिस का कहना है कि यह जापान और न्यूज़ीलैंड से लेकर पूरे एशियाई क्षेत्र में हेरोइन और मेथामफेटामाइन सहित भारी मात्रा में नशीले पदार्थों की तस्करी करता है।

त्स ची लोप को थाई किकबॉक्सर्स के एक दल द्वारा संरक्षण प्राप्त है।

ओविडियो गुज़मैन

5. ओविडियो गुज़मैन

ओविडियो गुज़मैन, जिसे “लिटिल चापो” या “चैपीटो” के नाम से जाना जाता है। ओविडियो गुज़मैन कुख्यात ड्रग लॉर्ड जोआक्विन “एल चैपो” का बेटा है, जिसे कभी मेक्सिको का मोस्ट-वॉन्टेड ड्रग लॉर्ड और दुनिया का मोस्ट-वॉन्टेड अपराधी माना जाता था।

सिनालोआ कार्टेल, सिनालोआ में स्थित एक आपराधिक समूह है और लॉर्ड जोआक्विन इसे चलाता है।

ओविडियो गुज़मैन भी अपने पिता जोआक्विन के पारिवारिक व्यवसाय में शामिल है जिसका काम ड्रग्स तस्करी है। ओविडियो गुज़मैन मैक्सिकन सिटी कुलीकियान में सबसे मादक पदार्थों के तस्करों में से एक है।

2019 में दर्जनों सशस्त्र मैक्सिकन पुलिस द्वारा ओविडियो को गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन सिनालोआ कार्टेल के गुर्गो ने पूरे शहर में आग लगाना शुरू कर दिया, सड़के जाम कर दी आखिर में मैक्सिकन पुलिस को मजबूरी में ओविडियो गुज़मैन को छोड़ना पड़ा। जून 24, 2020 में, यह पता चला था कि ओविडियो गुज़मैन का अब सिनालोआ कार्टेल पर सबसे अधिक प्रभाव है।

दाऊद इब्राहिम

4. दाऊद इब्राहिम

63 साल के दाऊद ने जबरन वसूली, मैच फिक्सिंग और ड्रग तस्करी के जरिए एक अरबो के साम्राज्य का निर्माण किया। दाऊद को 1993 में मुंबई में हुए श्रृंखलाबद्ध बम विस्फोटों के मास्टरमाइंड के रूप में जाना जाता है, इसमें 250 से अधिक लोग मारे गए थे।

संयुक्त राष्ट्र में सूचीबद्ध वैश्विक आतंकवादी होने के बावजूद भी भारत द्वारा कोई ठोस करवाई नहीं की गयी है। माना जाता है कि इब्राहिम पहले पाकिस्तान में और फिर संयुक्त अरब अमीरात में रह रहा था। भारत का कहना है कि वह पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा पर स्थानांतरित हो गया है।

अयमान अल-जवाहिरी

3. अयमान अल-जवाहिरी

1950 में मिस्र के एक अच्छे परिवार में जन्मे जवाहिरी ने शुरू में सर्जन के रूप में शुरुआत किया लेकिन बाद में वह देश के कट्टरपंथी इस्लामवादी आंदोलन में शामिल हो गया।

मिस्र में बार-बार जेल जाने और प्रताड़ित किए जाने से वह भागकर पाकिस्तान चला गया। पाकिस्तान में उसने मुजाहिदीन के लड़ाकों को सोवियत आक्रमणकारियों को पीछे हटाने के लिए सहायता दी और यही पाकिस्तान में जवाहिरी की मुलाकात ओसामा बिन लादेन के नाम से एक युवा सऊदी फाइनेंसर से हुई।

इस जोड़ी ने अपने संगठनों को मिलाकर अल-कायदा का निर्माण किया, 2011 में बिन लादेन की मृत्यु के बाद जवाहिरी ने अल-कायदा का कमान अपने हाथो में लिया।

2012 में, उन्होंने मुस्लिम देशों में पश्चिमी देशो के पर्यटकों के अपहरण के लिए मुसलमानों भड़काया। 11 सितंबर के हमलों के बाद से, अमेरिकी विदेश विभाग ने जवाहिरी की सूचना या खुफिया जानकारी देने वालो के लिए 25 मिलियन अमेरिकी डॉलर का इनाम देने की पेशकश की है।

अबू इब्राहिम अल-हाशिमी अल-कुरैशी

2. अबू इब्राहिम अल-हाशिमी अल-कुरैशी

अबू इब्राहिम आईएसआईएस(ISIS) का नव नामित उत्तराधिकारी / अपराधी है और इसने तुरंत दुनिया भर की सरकारों में मोस्ट वांटेड की सूची में अपना नाम बना लिया है। “अबू बक्र अल-बगदादी” की मौत के एक हफ्ते से भी कम समय में, 31 अक्टूबर 2019 को ISIS मीडिया, शूरा काउंसिल द्वारा उनकी नियुक्ति की घोषणा की गई।

अबूबकर शेकाऊ

1. अबूबकर शेकाऊ

अबूबकर नाइजीरियाई आतंकवादी / अपराधी है। यह 2009 में बोको हराम समूह का नेता बन गया। इसने क्रूर तरीके से न केवल सैन्य और पुलिस, बल्कि आम नागरिकों को निशाना बनाया। अबूबकर ने बोर्नो राज्य के एक शहर में एक माध्यमिक विद्यालय से 276 लड़कियों का अपहरण कर सुर्खियो में भी शामिल था।

कुछ लोग यह भी सोचते हैं कि अबूबकर नाइजीरिया का वास्तविक नागरिक नहीं है यह चाड गणराज्य का नागरिक है। मार्च 2015 में, अबूबकर ने आईएसआईएल नेता अबू बक्र अल-बगदादी के साथ संगठन बनाया।

अगस्त 2013 के मध्य में नाइजीरियाई सेना ने कहा कि सैनिकों ने सांबीसा के जंगल में बोको हराम के एक अड्डे पर करवाई की और 25 जुलाई और 3 अगस्त के बीच उसकी मौत हो गई।

हालांकि, सितंबर 2013 में एक वीडियो जारी किया गया था जिसमें एक व्यक्ति ने खुद को अबूबकर बताया और कहा कि वह मारा नहीं गया था। हालाँकि इसके बाद भी कई हमलो में अबूबकर की मौत की सूचना मिलती रही लेकिन हर बार अबूबकर ने विडियो बनाकर खुद को जिंदा बताया।

मुझे आशा है कि आपको “दुनिया के सबसे खतरनाक अपराधी” के कुछ रोचक तथ्य पर हमारा यह लेख पसंद आया होगा। आप अपनी प्रतिक्रिया हमें कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं ताकि हम तिकड़म पर और भी बेहेतर आर्टिकल भविष्य में ला सकें। तिकड़म की ओर से हमारी हमेशा यही कोशिश है कि हम लोगों तक दुनिया के दिलचस्प तथ्यों से अवगत करा सकें। यदि आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो मेरा आपसे अनुरोध है कि कृपया इस लेख को अपने मित्रों के साथ शेयर करें। अब आप यहाँ टेक्नोलॉजीसिनेमा और बचत से संबंधित लेख भी पढ़ सकते हैं।

Exit mobile version